मुखपृष्ठ > लिनफेन सिटी
Trinamool insulted Kali: 'तृणमूल ने किया मां काली का अपमान, राष्ट्रीय प्रतीक का भी अनादर'
रिलीज़ की तारीख:2022-10-02 07:52:48
विचारों:118

तृणमूलनेकियामांकालीकाअपमानराष्ट्रीयप्रतीककाभीअनादरGold Rate Today: रक्षाबंधन से ठीक पहले सोना हुआ खूब सस्‍ता, चांदी में भी आई गिरावट******Gold loses sheen, falls Rs 425 on lacklustre demand; silver slips Rs 690स्थानीय सर्राफा बाजार में बुधवार को 425 रुपए टूटकर 37,945 रुपए प्रति 10 ग्राम रह गया। उल्‍लेखनीय है कि गुरुवार को रक्षाबंधन जैसा बड़ा त्‍योहार है और उससे पहले सोने की कीमतों में गिरावट से खरीदारों को जरूर खुशी मिलेगी। विदेशों में सोने की कीमतों में तेजी के बावजूद स्थानीय स्तर पर आभूषण विक्रेताओं की सुस्त मांग के कारण यह गिरावट आई है। अखिल भारतीय सर्राफा संघ के अनुसार औद्योगिक इकाइयों और सिक्का निर्माताओं का उठाव कम होने से चांदी की कीमत 690 रुपए की गिरावट के साथ 44,310 रुपए प्रति किलोग्राम रह गई। उन्होंने कहा कि घरेलू हाजिर बाजार में आभूषण विक्रेताओं की मांग में गिरावट से बहुमूल्य धातुओं की कीमत में गिरावट आई है।हालांकि विदेशों में सकारात्मक रुख होने के कारण गिरावट पर कुछ अंकुश लगा। वैश्विक स्तर पर न्यूयॉर्क में सोने का भाव तेजी के साथ 1,509.09 डॉलर प्रति औंस रहा। इसी तरह चांदी का भाव 17.22 डॉलर प्रति औंस रहा।राष्ट्रीय राजधानी में बुधवार को 99.9 प्रतिशत और 99.5 प्रतिशत शुद्धता वाला सोना 425-425 रुपए की गिरावट के साथ क्रमश: 37,945 रुपए और 37,775 रुपए प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ। आठ ग्राम वाली गिन्नी भी 100 रुपए गिरकर 28,700 रुपए पर बंद हुई।चांदी हाजिर की कीमत 690 रुपए की गिरावट के साथ 44,310 रुपए प्रति किलोग्राम पर रही। चांदी साप्ताहिक डिलिवरी का भाव 1,050 रुपए की हानि के साथ 43,230 रुपए प्रति किलोग्राम पर बंद हुआ। चांदी के सिक्कों के भाव 1,000 रुपए की गिरावट के साथ लिवाल 88,000 रुपए और बिकवाल 89,000 रुपए प्रति सैकड़ा पर बंद हुआ।

तृणमूलनेकियामांकालीकाअपमानराष्ट्रीयप्रतीककाभीअनादरराजकोषीय घाटा बढ़ने से विदेशी निवेशक हुए निराश, दिसंबर में FPI ने शेयर बाजार से निकाले 7,300 करोड़ रुपए****** (एफपीआई) ने दिसंबर महीने में शेयर बाजार से 7,300 करोड़ रुपए की निकासी की है। इसके पीछे प्रमुख वजह कच्चे तेल की कीमत बढ़ना और राजकोषीय घाटे के दायरे में वृद्धि होना बताया जा रहा है। इससे पहले नवंबर में एफपीआई ने 19,728 करोड़ रुपए का निवेश किया था, जो पिछले आठ महीने का उच्चतम स्तर था। इसकी अहम वजह सरकार का सार्वजनिक बैंकों में पूंजी डालने का निर्णय था। साथ ही उसी दौरान विश्व बैंक ने भारत की कारोबार सुगमता रेटिंग में सुधार भी किया था।मार्च के बाद यह सबसे अधिक एफपीआई निवेश था। तब शेयर बाजार में उन्होंने 30,906 करोड़ रुपए का निवेश किया था।डिपॉजिटरी डाटा के अनुसार 1-22 दिसंबर के बीच एफपीआई ने शेयर बाजार से 7,300 करोड़ रुपए की निकासी की है। हालांकि इसी अवधि में निवेशकों ने 1,356 करोड़ रुपए ऋण बाजार में निवेश भी किए। मॉर्निंग स्टार इंडिया के वरिष्ठ विश्लेषक प्रबंधक (शोध) हिमांशु श्रीवास्तव ने कहा कि कच्चे तेल की बढ़ती कीमत और राजकोषीय घाटे का दायरा बढ़ने से निवेशकों का रुख थोड़ा सावधानी भरा रहा है। इससे उन्हें क्रिसमस और नए साल से पहले मुनाफा वसूली का अच्छा मौका मिला, जिसके चलते उन्होंने निकासी की है।तृणमूलनेकियामांकालीकाअपमानराष्ट्रीयप्रतीककाभीअनादरQ3 Results: टेक महिंद्रा का शुद्ध लाभ 10 फीसदी बढ़कर 943 करोड़ रुपए हुआ, इमामी को हुआ 147 करोड़ का मुनाफा******IT सेक्‍टर की टॉप कंपनियों में शामिल का एकीकृत शुद्ध लाभ तीसरी तिमाही में 10.2 प्रतिशत बढ़कर 943.1 करोड़ रुपए पर पहुंच गया है। 2016 की इसी अवधि में कंपनी का शुद्ध लाभ 856 करोड़ रुपए था। भारतीय मानक के अनुरुप, समीक्षाधीन अवधि में कंपनी की एकीकृत आय 7,776 करोड़ रुपए हो गई है, जो 2016 की तीसरी तिमाही में आय 7,557.5 करोड़ रुपए से 2.9 प्रतिशत अधिक है। दिसंबर तिमाही के लिए प्रति शेयर लाभ 10.73 रुपए रहा। टेक महिंद्रा के वाइस चेयरमैन विनीत नय्यर ने कहा कि हमारा ध्यान डिजिटल रूप से परिवर्तन, भविष्य की मांग को पूरा करने के लिए लगातार पुनर्संरचना पर है। जिसके उत्साहजनक परिणाम दिखाई दे रहे हैं।ठीक पिछली तिमाही में, शुद्ध लाभ 12.8 प्रतिशत जबकि राजस्व 2.2 प्रतिशत अधिक था। डॉलर के आधार पर कंपनी का मुनाफा 2016 के मुकाबले 2017 में 16.5 प्रतिशत बढ़कर 14.7 करोड़ डॉलर हो गया है, जबकि आय 8.3 प्रतिशत बढ़कर 1.2 अरब डॉलर हो गई है। टेक महिंद्रा में 1,15,241 लोग कार्यरत हैं।एफएमसीजी कंपनी इमामी का एकीकृत शुद्ध लाभ 31 दिसंबर को समाप्त हुई तीसरी तिमाही में 9.56 प्रतिशत बढ़कर 147.08 करोड़ रुपए हो गया। 2016 की अक्‍टूबर-दिसंबर अवधि में शुद्ध लाभ 134.34 करोड़ रुपए था।परिचालन से होने वाली कुल आय 734.12 करोड़ रुपए से बढ़कर 762.16 करोड़ रुपए हो गई। कंपनी ने कहा कि जीएसटी लागू किए जाने के बाद थोक माध्यम में सामान्य स्थिति होना अभी बाकी है जबकि ग्रामीण और खुदरा खंड में तेजी दिखाई दे रही है और आगे भी इसके जारी रहने की उम्मीद है।इमामी के निदेशक मोहन गोयनका ने कहा कि कंपनी ने इस तिमाही के अंत में संतोजनक मात्रा में वृद्धि दर्ज की है। खुदरा और ग्रामीण कारोबार में तेजी लौट आई है और यह दहाई अंक में आगे बढ़ रही है जबकि थोक कारोबार में अभी भी कुछ दबाव है। इमामी का कुल खर्च 5.25 प्रतिशत बढ़कर 467.41 करोड़ से 491.96 करोड़ रुपए पर पहुंच गया है।

Trinamool insulted Kali: 'तृणमूल ने किया मां काली का अपमान, राष्ट्रीय प्रतीक का भी अनादर'

तृणमूलनेकियामांकालीकाअपमानराष्ट्रीयप्रतीककाभीअनादरहोंडा मोटरसाइकिल की दिसंबर में बिक्री 3 प्रतिशत बढ़कर 2.63 लाख वाहन******दिसंबर बिक्री 3 प्रतिशत बढ़ीनई दिल्ली। ऑटो सेक्टर तेजी से कोरोना संकट के दबाव से बाहर निकलता आ रहा है। ऑटो कंपनियों के दिसंबर के बिक्री आंकड़ों से ये संकेत मिल रहा है। होंडा मोटरसाइकिल एंड स्कूटर इंडिया (एचएमएसआई) की बिक्री दिसंबर, 2020 में तीन प्रतिशत बढ़कर 2.63 लाख यूनिट पर पहुंच गई है। कंपनी ने दिसंबर, 2019 में 2.55 लाख वाहन बेचे थे। कंपनी ने सोमवार को दिसंबर के बिक्री आंकड़े जारी करते हुए कहा कि दिसंबर में घरेलू बाजार में उसकी बिक्री पांच प्रतिशत बढ़कर 2,42,046 इकाई पर पहुंच गई, जो इससे पिछले साल समान महीने में 2,30,197 इकाई रही थी।कंपनी ने कहा कि अक्टूबर-दिसंबर तिमाही में घरेलू बाजार में उसकी बिक्री सालाना आधार पर पांच प्रतिशत बढ़कर 11,49,101 रही, जो इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में 10,91,299 इकाई रही थी। बिक्री प्रदर्शन पर एचएमएसआई के निदेशक (सेल्स एंड मार्केटिंग) यादविंदर सिंह गुलेरिया ने कहा, ‘‘दिसंबर, 2020 में सकारात्मक थोक एवं खुदरा बिक्री आंकड़ों के बाद हम नयी उम्मीद के साथ 2021 में प्रवेश कर रहे हैं। लंबे समय बाद तीसरी तिमाही में हमने तिमाही आधार पर सकारात्मक बिक्री दर्ज की है।’’इससे पहले आए बजाज ऑटो के बिक्री आंकड़ों के मुताबिक दिसंबर 2020 में बेचे गए वाहनों की संख्या 11 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 3.72 लाख इकाइयों पर पहंच गयी। कंपनी ने एक बयान में कहा कि साल भर पहले यानी दिसंबर 2019 में उसने कुल 3.36 लाख वाहनों की बिक्री की थी। कंपनी ने कहा कि साल भर पहले की तुलना में घरेलू बिक्री 1,53,163 इकाइयों से नौ प्रतिशत कम होकर 1,39,606 इकाइयों पर आ गयी। वहीं इस दौरान मोटरसाइकिलों की कुल बिक्री दिसंबर 2019 की 2,84,802 इकाइयों की तुलना में 19 प्रतिशत बढ़कर दिसंबर 2020 में 3,38,584 इकाइयों पर पहुंच गयी। बजाज ऑटो ने कहा कि इस दौरान निर्यात 1,82,892 इकाइयों की तुलना में 27 प्रतिशत बढ़कर 2,32,926 इकाई हो गया।तृणमूलनेकियामांकालीकाअपमानराष्ट्रीयप्रतीककाभीअनादर18 जून को बन रहा है महालक्ष्मी योग, इन 3 राशि वालों को मिल सकता है अपार धन******ज्योतिष शास्त्र में सभी 9 ग्रहों की अपनी विशेषता होती है। ज्योतिष शास्त्र की मानें तो किसी भी ग्रह का दूसरे ग्रह के साथ युति का प्रभाव सभी राशियों पर पड़ता है।अब 18 जून को बुध और शुक्र ग्रह युति करने जा रहे हैं। दरअसल, 18 जून को शुक्र ग्रह अपनी राशि वृषभ में प्रवेश करने जा रहे हैं, जहां बुध ग्रह पहले से ही विराजमान हैं। ऐसे में दोनों ग्रहों की युति होने जा रही है जो महालक्ष्मी योग का निर्माण हो रहा है।ऐसे में बुध-शुक्र ग्रह की युति से बने महालक्ष्मी योग का कुछ राशि के जातकों को बहुत शुभ फलदायी साबित होने वाला है। तो आइए जानते हैं उन भाग्यशाली राशियों के बारे में।ज्योतिष शास्त्र के अनुसार मेष राशि के जातकों को बुध और शुक्र ग्रह की युति से बने महालक्ष्मी योग का लाभ मिलने के संकेत हैं। इस राशि के जातकों में ये योग दूसरे स्थान पर बन रहा है। कुंडली में दूसरा स्थान धन और वाणी का स्थान कहलाता है। ऐसे में मेष राशि वाले जातकों को धन लाभ की प्राप्ति हो सकती है। अचानक से आपको कारोबार में मुनाफा मिल सकता है, जिससे आपकी आर्थिक स्थिति में सुधार आएगा। इस अवधि में अटका हुआ पैसा भी वापस मिल सकता है। आपकी आर्थिक स्थिति में सुधार आएगा। इस दौरान वाणी से जुड़े कार्य वाले लोगों को लाभ मिल सकता है। अगर इस राशि के जातक धनलाभ चाहते हैं तो इस दौरान पन्ना रत्न धारण कर सकते हैं।ज्योतिष शास्त्र के अनुसार कर्क राशि के जातकों को बुध और शुक्र के इस योग से लाभ मिलेगा। इस राशि के जातकों में ये योग 11वें स्थान में बन रहा है। कुंडली में 11वेंस्थान लाभ और इनकम का स्थान कहलाता है। ऐसे में इस दौरान इन जातकों की इनकम में बढ़ोतरी हो सकती है। आय के नए स्त्रोत बनेंगे। बिजनेस में मुनाफा मिल सकता है। कोई बड़ी डील फाइनल होने की संभावना है। आप पर मां लक्ष्मी की कृपा बनी रहेगी। इस राशि के जातक इस दौरान मून स्टोन धारण कर सकते हैं।सिंह राशि के जातकों में ये योग दशम स्थान पर बन रहा है। कुंडली में ये स्थान जॉब और कार्यक्षेत्र का भाव है। ऐसे में इस दौरान नई जॉब का ऑफर मिल सकता है। व्यापार में धनलाभ होने की संभावना है। नौकरी करने वाले लोगों को इस दौरान प्रमोशन की संभावना है। आप पर मां लक्ष्मी की कृपा बनी रहेगी। इस राशि के जातक के लिए एक पन्ना धारण करना शुभ रहेगा।तृणमूलनेकियामांकालीकाअपमानराष्ट्रीयप्रतीककाभीअनादर'सुपर 30' की स्पेशल स्क्रीनिंग शामिल हुए टीचर्स, ऋतिक रोशन के अभिनय ने जीता सबका दिल!******बहुप्रतीक्षित रिलीज से पहले, सुपर 30 के निर्माताओं ने मुंबई के शिक्षकों और प्रोफेसरों के लिए फिल्म की एक विशेष स्क्रीनिंग का आयोजन किया था।फ़िल्म की इस विशेष स्क्रीनिंग में विभिन्न स्कूलों और कॉलेजों से कई शिक्षक उपस्थित थे और स्क्रीनिंग में उपस्थित हर कोई फिल्म से पूरी तरह प्रभावित नज़र आया एवं ऋतिक रोशन द्वारा 'राष्ट्र निर्माताओं' को स्क्रीनिंग के लिए आमंत्रित करने के लिए अभिभावक की सराहना की और इस फ़िल्म को सभी माता-पिता को देखने की सलाह दी।रियल और रील लाइफ के अध्यापकों की जोड़ी के साथ, ऋतिक रोशन और आनंद कुमार भी हमारे देश के भविष्य को आकार देने में मदद करने वाले शिक्षकों की बिरादरी के प्रति समर्थन दिखाने के लिए स्क्रीनिंग में मौजूद थे।शिक्षकों को यह देखकर खुशी हुई कि ऋतिक और फिल्म निर्माताओं द्वारा उनके पेशे के महत्व को कितनी बखूबी पर्दे पर दर्शाया गया है। स्क्रीनिंग के बाद प्रोफेसर ज़ीनत ने कहा, "यह फ़िल्म जरूर देखनी चाहिए! सुपर 30 एक शानदार फिल्म है और मुझे लगता है, शिक्षकों का इससे पहले इतना सम्मान कभी नहीं मिला है। लेकिन, इस फिल्म और ऋतिक द्वारा आयोजित फ़िल्म की स्क्रीनिंग ने निश्चित रूप से मुझे सबसे ज्यादा खुश किया है। ऋतिक का प्रदर्शन शानदार है और मैं हर माता-पिता और शिक्षक से यह फ़िल्म देखने का आग्रह करती हूं।" एक ओर शिक्षक सुनीता ने साझा किया,"परफॉर्मेंस सर्वोत्कृष्ट है और आज के वक़्त में सुपर 30 भारत के लिए सबसे महत्वपूर्ण फिल्म है।"फिल्म के बारे में हमें और अधिक जानकारी देते हुए, प्रोफेसर गजेंद्र देवड़ा ने कहा, "सुपर 30 ग्लोबल आर्डर की एक डॉक्यूमेंट्री की तरह है जिसे सबसे मनोरंजक तरीके से बनाया गया है। ऋतिक अपने किरदार के प्रति बिल्कुल सही है। मैंने इसके हर पल को खूब एन्जॉय किया है। ”स्क्रीनिंग के दौरान उपस्थित शिक्षकों के ग्रुप से सबसे मेल खाते दृश्य के बारे में पूछे जाने पर, वहाँ मौजूद प्रोफेसर तरवीन ने साझा किया, "ऋतिक राष्ट्र के उज्ज्वल भविष्य को बनाने के लिए बच्चों और फार्मूला को जिस तरह एक साथ लाते हैं, वह हर शिक्षक के लिए हर रोज का संघर्ष हैं और फिल्म कई स्तर पर प्रेरणादायक थी।"ऋतिक के इस जेस्चर के साथ हर तरफ आंसू, खुशी और गर्व का भाव था। अभिनेता सभी शिक्षकों के बीच प्रशंसा का पात्र बने हुए है और इस इवेंट में आनंद कुमार के साथ भी कुछ पल साझा करते हुए नज़र आये। रियल और रील राष्ट्र निर्माताओं को एक ही छत के नीचे देखना अद्भुत दृश्य था।जब से फिल्म का ट्रेलर रिलीज हुआ है हर कोई फ़िल्म की रिलीज का इंतज़ार कर रहा था जो आज रिलीज के साथ खत्म हो गया है। पूरी दुनिया में अभिनेता के फैंस 'सुपर 30' की रिलीज का बेसब्री से इंतजार कर रहे थे परिणामस्वरूप फिल्म के लिए बड़े पैमाने पर प्री-बुकिंग देखने मिली।ऋतिक रोशन फिल्म "सुपर 30" में एक शिक्षक की भूमिका निभा रहे है। फ़िल्म में वे एक गणितज्ञ के किरदार में नज़र आएंगे, जो 30 छात्रों को आईआईटी-जेईई की प्रतियोगी परीक्षा के लिए तैयार करते है। फिल्म में ऋतिक के साथ मृणाल ठाकुर और ऋतिक के विपक्षी के रूप में पंकज त्रिपाठी भी नज़र आएंगे।सुपर 30 में अभिनेता ने निश्चित रूप से भाषा के सही उच्चारण के साथ एक बिहारी गणित शिक्षक के किरदार को अपने भीतर बखूबी उतार लिया है। बॉलीवुड सुपरस्टार द्वारा "सुपर 30" के ट्रेलर में एक अनदेखे अवतार और दमदार अदाकारी देख कर प्रशंसक भौचक्के रह गए थे।एचआरएक्स फिल्म्स के साथ मिलकर रिलायंस एंटरटेनमेंट प्रस्तुत करता है सुपर 30, जो साजिद नाडियाडवाला फिल्म, नाडियाडवाला ग्रैंडसन एंटरटेनमेंट, फैंटम फिल्म्स और रिलायंस एंटरटेनमेंट द्वारा निर्मित है। रिलायंस एंटरटेनमेंट और पीवीआर पिक्चर्स की यह फ़िल्म आज सिनेमाघरों में रिलीज हो चुकी है।

Trinamool insulted Kali: 'तृणमूल ने किया मां काली का अपमान, राष्ट्रीय प्रतीक का भी अनादर'

तृणमूलनेकियामांकालीकाअपमानराष्ट्रीयप्रतीककाभीअनादर1000 रुपए महंगा हो गया सोना, दिल्ली में भाव 31,350 रुपए हुआ, जानिए कहां मिल रहा है पुराने रेट पर सोना****** अमेरिकी करेंसी डॉलर में आई गिरावट की वजह से शुक्रवार को सोने की कीमतों में मानो आग लग गई, दिल्ली सर्राफा बाजार में सोना 990 रुपए की तेजी के साथ 31,350 रुपए प्रति 10 ग्राम तक पहुंच गया जो करीब 11 महीने में सबसे ऊपरी स्तर है। सोने के भाव को लेकर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर संकेत मजबूत लग रहे हैं जिस वजह से अंतरराष्ट्रीय बाजार में भाव तेज है और इसका असर घरेलू बाजार पर भी दिख रहा है, फिलहाल विदेशी बाजार में सोना 1,352 डॉलर प्रति औंस के स्तर पर कारोबार कर रहा है। पैसा खबर इंडिया टीवी ने सोने की कीमतों मे तेजी को लेकर पहले ही आगाह कर दिया था।अमेरिकी करेंसी डॉलर में भारी गिरावट आई है जिस वजह से सोने का भाव बढ़ा है, डॉलर इंडेक्स घटकर 91.01 के स्तर तक आ गया है जो जनवरी 2015 के बाद सबसे निचला स्तर है। उत्तरी कोरिया और अमेरिका के बीच बढ़े तनाव की वजह से अमेरिकी डॉलर मे गिरावट आई है और सोने की निवेश मांग में जोरदार बढ़ोतरी हुई है जो इसके भाव को भी उपर उठा रही है।शुक्रवार को घरेलू बाजार में सोने के साथ चांदी की कीमतों में भी उठाव देखने को मिला, हालांकि चांदी का भाव उतना नहीं बड़ा जितनी तेजी सोने की कीमतों में आई है। चांदी महज 100 रुपए बढ़कर 42,000 के स्तर पर कारोबार कर रही है।सोने के भाव में इतनी ज्यादा तेजी के बाद एक विकल्प अभी ऐसा है जहां भाव अब भी 1000 रुपए नीचे है और वहां मिलने वाले सोने की शुद्धता की पूरी गारंटी है। देश के कमोडिटी एक्सचेंज MCX पर फिलहाल सोने का भाव 30,378 रुपए प्रति 10 ग्राम पर चल रहा है। इस प्लेटफॉर्म से सोना खरीदने के लिए आपको कमोडिटी ब्रोकर से संपर्क करना पड़ेगा। कमोडिटी ब्रोकर के पास खाता खुलवाकर आप इस प्लेटफॉर्म पर सोने की खरीदारी कर सकते हैं। सुबह 10 बजे से लेकर रात को 11.30 बजे तक सोने की खरीदारी और बिकवाली की जा सकती है। जिस वायदा सौदे में खरीदारी करेंगे उसकी एक्सपायरी के समय खरीदे गए सोने की शुद्धता की गारंटी के साथ आपको डिलिवरी कर दी जाएगी।तृणमूलनेकियामांकालीकाअपमानराष्ट्रीयप्रतीककाभीअनादर2020 में कमाना चाहते हैं मोटा मुनाफा, तो इन 20 शेयरों में करें निवेश******Want to earn big profits in 2020, invest in these 20 stocksअक्सर नए साल में बाजार में निवेश करने वाले लोग एक नई रणनिति बनाकर निवेश करना चाहते हैं। पूरे साल के नफा नुकसान को देखते हुए अपने नए साल में ऐसा पोर्टफोलियो तैयार करना चाहते हैं, जिससे उन्हें अच्छा रिटर्न मिल सके। हर साल की तरह इस साल भी कई ऐसे निवेशक होंगे जो कुछ ऐसे ही में निवेश करना चाहते होंगे। हमने एस्‍कॉर्ट्स सेक्यूरिटीज लिमिटेड के रिसर्च हैड, आसिफ इक़बाल से बात की और 2020 के कुछ ऐसे ही 20 फंडामेंटल मजबूत शेयरों के बारे जानकारी ली, जिसमें आप एक साल की अवधि के लिए निवेश करके अच्छा रिटर्न पा सकते हैं। 9. :

Trinamool insulted Kali: 'तृणमूल ने किया मां काली का अपमान, राष्ट्रीय प्रतीक का भी अनादर'

तृणमूलनेकियामांकालीकाअपमानराष्ट्रीयप्रतीककाभीअनादरRashmika Mandanna के गाने 'सामी-सामी' में जबरदस्त डांस करती दिखी ये बच्ची, एक्ट्रेस ने मिलने की लगाई गुहार******Highlights सोशल मीडिया की इतनी ताकत है की आए दिन यह कुछ न कुछ वायरल हो जाता है। हाल ही में एक वीडियो जमकर वायरल हो रहा है जिसमें एक बच्ची शानदार डांस कर रही है। आपको याद दिला दें रश्मिका मंदाना का 'सामी-सामी' गाना भी खूब वायरल हुआ था। इस गाने पर लोगों ने खूब रील्स भी बनाए थे। हाल ही मेंएक क्यूट सी बच्ची ने रश्मिका के इस गाने पर धमाकेदार डांस किया है। रश्मिका ने इस बच्ची का वीडियो शेयर किया है।इस वीडियो में स्कूल की एक छोटी सी बच्ची रश्मिका मंदाना की 'पुष्पा' फिल्म के 'सामी-सामी' गाने पर डांस कर रही है, और अबये बच्ची इंटरनेट पर छा गई है। एक्ट्रेस ने ये वीडियो शेयर किया है साथ ही रश्मिका ने लिखा, मेड माय डे। मैं इस क्यूटी से मिलना चाहूंगी। पर कैसे? बता दें ये वीडियो वायरल हो रहा है साथ ही इसपर लोग जमकर कमेंट कर रहे हैं। कई लोगों का कहना हैं कि ये बच्ची खुद रश्मिका मंदाना से भी अच्छा डांस कर रही है।रश्मिका जल्द ही 'गुडबाय' में नजर आने वाली है। वहीं रश्मिका ने 'पुष्पा' के दूसरे पार्ट के लिए काम शुरू करने वाली हैं। फिल्म में एक्ट्रेस को दोबारा अल्लू अर्जुन के साथ देखा जाएगा। ये फिल्म अगले साल तक सिनेमाघरों में दस्तक देगी।

तृणमूलनेकियामांकालीकाअपमानराष्ट्रीयप्रतीककाभीअनादरराजू श्रीवास्तव के कॉमेडियन दोस्त सुनील पाल ने बयां किया दर्द- 'काश एक चमत्कार राजू भाई को बचा लेता'******सुनील पाल और राजू श्रीवास्तव ने साथ में कॉमेडी का सफर शुरू किया था। आज जब राजू चले गए तो सुनील पाल खुद को बेहद अकेला महसूस कर रहे हैं। जब राजू अस्पताल में थे उस वक्त भी सुनील पाल लगातार उनके हेल्थ की जानकारी उनके फैंस के साथ शेयर कर रहे थे। सुनील पाल ने पिछले 43 दिनों में दिवंगत कॉमेडियन के फैंस से पॉजिटिव रहने और उनके ठीक होने के लिए प्रार्थना करने के लिए कहा था। आज जब राजू श्रीवास्तव इस दुनिया से हमेशा के लिए चले गए तो सुनील पाल ने अपना दर्द बयां किया है।दोस्त की मौत से दुखी सुनील पाल ने कहा, "राजू पिछले 40 दिनों से एक लड़ाई लड़ रहे थे और मैंने अपने सपनों में भी कभी नहीं सोचा था कि वह हमें ऐसे ही छोड़ देगा। मैंने चाहा था कि यह दिन कभी न आए। यह उनके परिवार और उनके करीबी सभी के लिए दर्दनाक खबर है। अब भी मैं चाहता हूं कि कोई चमत्कार हो और वह वापस आ जाए।"'द ग्रेट इंडिया लाफ्टर चैलेंज' का पहला सीजन कॉमेडियन सुनील पाल ने जीता था वहीं राजू श्रीवास्तव फर्स्ट रनर-अप थे, उन्होंने कहा कि उनके दोस्त राजू को 'कॉमेडी का राजा' कहा जाता था।25 अगस्त को सुनील पाल ने फैंस को जानकारी दी थी कि कॉमेडियन को होश आ गया, लेकिन आशा की वह किरण थोड़े समय के लिए निकली और राजू श्रीवास्तव इस दुनिया से हमेशा के लिए चले गए।तृणमूलनेकियामांकालीकाअपमानराष्ट्रीयप्रतीककाभीअनादरWasim Akram Asia Cup 2022: नसीम-मियांदाद के चक्कर में फंस गए वसीम अकरम, लोगों ने जमकर किया ट्रोल******HighlightsWasim Akram Asia Cup 2022: पाकिस्तान को अफगानिस्तान के खिलाफ सुपर 4 राउंड के पिछले मुकाबले में आखिरी ओवर में जीत के लिए 11 रन की जरूरत थी। नसीम शाह ने आखिरी ओवर की शुरुआती दो गेंदों पर लगातार दो छक्के लगाकर रोमांचक मुकाबले में पाकिस्तान को जबरदस्त जीत दिला दी। इस जीत ने पाकिस्तान को एशिया कप के फाइनल में पहुंचा दिया। इन छक्कों ने पाकिस्तानी कप्तान बाबर आजम को जावेद मियांदाद की जीत दिला दी। मियांदाद ने भारत के खिलाफ आखिरी ओवर की अंतिम गेंद पर सिक्स लगाकर पाकिस्तान को जोरदार जीत दिलाई थी। पूर्व पाकिस्तानी बल्लेबाज ने ये कारनामा शारजाह के इसी मैदान पर ऑस्ट्रेल-एशिया कप के फाइनल में किया था। इस मैच की आखिरी गेंद पर पाकिस्तान को जीत के लिए चार रन की जरूरत थी, गेंद चेतन शर्मा के हाथों में थी और मियांदाद ने सिक्स लगाकर यादगार जीत दर्ज की थी।एशिया कप में गुरुवार को हुए मुकाबले में भी हालात कुछ ऐसे ही थे। पाकिस्तान के नौ विकेट गिर चुके थे। आखिरी ओवर में फजलहक फारूकी ने लगातार दो गेंदें फुलटॉस डाली और दसवें नंबर के बल्लेबाज नसीम शाह ने दोनों गेंदों पर छक्के लगाकर पाकिस्तान को जीत दिला दी। इस जीत से एशिया कप 2022 में भारत और अफगानिस्तान का सफर भी खत्म हो गया।मुकाबले के खत्म होने के बाद पाकिस्तान के पूर्व कप्तान वसीम अकरम ने नसीम शाह को मुबारकबाद देने के लिए ट्विटर का रुख किया। उन्होंने भी इस कारनामे की तुलना भारत के खिलाफ जावेद मियांदाद के लगाए छक्के से की। उनके ट्वीट करते ही वे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर जमकर ट्रोल होने लगे क्योंकि उन्होंने भारत और पाकिस्तान के बीच हुए मुकाबले में मियांदाद के लगाए छक्के का साल गलत बताया था। अकरम ने उस मैच को 26 साल पहले का बताया, असलियत में ये मैच 36 साल पहले 1986 में हुआ था।वसीम अकरम ने अपने ट्वीट में लिखा, “क्या शानदार मैच था... इस उम्र में मैं भी इतना सनसनीखेज फिनिश नहीं कर सकता था। नसीम शाह ने क्या शानदार छक्के लगाए। जब मियांदाद ने पहले भारत के खिलाफ आखिरी गेंद पर सिक्स लगाया था मैं उस टीम का हिस्सा था... 26 साल बाद मैंने आखिरी ओवर में दो छक्के देखे... जबरदस्त काम।”उनके इस ट्वीट के पोस्ट होते ही सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के तमाम यूजर्स ने उनकी ट्रोलिंग शुरू कर दी।

तृणमूलनेकियामांकालीकाअपमानराष्ट्रीयप्रतीककाभीअनादरसपा की सरकार बनने पर ब्राह्मणों पर लगे फर्जी मुकदमे वापस होंगे: अखिलेश यादव******Highlights समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मंगलवार को ब्राह्मण संगठनों के प्रतिनिधि मंडल को भरोसा दिलाया कि सपा की सरकार बनने पर काशी विश्‍वनाथ समेत अन्य मंदिरों के पुजारियों व पुरोहितों को मानदेय दिया जाएगा, संस्कृत शिक्षकों का सम्मान होगा और ब्राह्मणों सहित सभी पर लगे फर्जी मुकदमे वापस लिए जाएंगे। सपा मुख्यालय से मंगलवार को जारी बयान के अनुसार, पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव से आज कई ब्राह्मण संगठनों के प्रतिनिधियों ने भेंट किया और उन्हें अपने समर्थन का भरोसा दिलाया। ने उन्हें आश्वासन दिया कि प्रदेश में सपा की सरकार बनने पर ‘‘संस्कृत शिक्षकों का सम्मान होगा, मंदिरों का संरक्षण होगा, काशी विश्वनाथ मंदिर के पुजारियों सहित अन्य मंदिरों के पुजारियों को भी मानदेय दिया जाएगा।’’ उन्होंने कहा कि रामायण के कलाकारों को भी मानदेय देंगे और फ‍िर श्रवण यात्रा शुरू होगी। उन्‍होंने सपा सरकार बनने पर ब्राह्मणों सहित सभी पर लगे फर्जी मुकदमे वापस लेने की भी घोषणा की।यादव ने कहा, ‘‘समाजवादी सरकार में तीर्थ स्थलों के विकास के साथ संस्कृत शिक्षा को प्रोत्साहित किया गया था। उसने संस्कृत विश्वविद्यालय वाराणसी को 30 करोड़ रुपये की मदद दी थी और परशुराम जयंती पर सार्वजनिक अवकाश घोषित किया गया था।’’ गोरखपुर जिले के बाहुबली पूर्व मंत्री पंडित हरिशंकर तिवारी के पुत्र चिल्लूपार के विधायक और सपा उम्मीदवार विनय शंकर तिवारी के साथ ब्राह्मणों का प्रतिनिधिमंडल यहां सपा मुख्यालय में यादव से मिला।बयान के अनुसार, प्रतिनिधिमंडल में विप्र एकता मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष मित्रेश चतुर्वेदी, अखिल भारतीय ब्राह्मण महासभा (ब्रह्म समर्पित) के राष्ट्रीय अध्यक्ष नानक चंद्र शर्मा, महामंत्री ब्राह्मण संघ हरीश शर्मा, ओम ब्राह्मण महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष धनंजय द्विवेदी, ब्राह्मण परिषद के अध्यक्ष केपी शर्मा सहित कई प्रमुख लोग शामिल थे। ब्राह्मण समाज के प्रतिनिधिमंडल ने सपा प्रमुख को दिये गये अपने मांग पत्र में कहा है, ‘‘भगवान परशुराम जयंती पर पूर्व में दिए गए सार्वजनिक अवकाश को पुनः बहाल किया जाए, ब्राह्मण आयोग का गठन हो तथा ब्राह्मण एवं ब्राह्मण हितों पर हो रहे कुठाराघात को रोका जाए।’’उसमें कहा गया है, ‘‘केन्द्र सरकार द्वारा सवर्णों को दिए गए 10 प्रतिशत आरक्षण का उचित अनुपालन सुनिश्चित किया जाए। ब्राह्मण समाज का उत्पीड़न बंद किया जाए और खुशी दुबे को रिहा कर उस पर लगे झूठे मुकदमों को वापस लिया जाए।’’ उल्लेखनीय है कि जुलाई 2020 में कानपुर जिले के बिकरू गांव में एक गैंगस्टर विकास दुबे को पकड़ने गई पुलिस पर दुबे और उसके साथियों ने हमला कर आठ पुलिसकर्मियों की हत्या कर दी थी। बाद में पुलिस ने विकास दुबे और उसके सहयोगी अमर दुबे समेत अन्‍य आरोपियों को अलग-अलग मुठभेड़ में मार गिराया। इस सिलसिले में पुलिस ने घटना से हफ्ते भर पहले ब्याह कर लाई गई अमर दुबे की नाबालिग पत्नी खुशी दुबे को भी गिरफ्तार किया है।तृणमूलनेकियामांकालीकाअपमानराष्ट्रीयप्रतीककाभीअनादरडॉलर के मुकाबले रुपये में हल्की गिरावट, 1 पैसे गिरकर 74.44 पर हुआ बंद******डॉलर के मुकाबले रुपये में हल्की गिरावटनई दिल्ली। सेंसेक्स की तर्ज पर आज डॉलर के मुकाबले रुपये में भी हल्की गिरावट देखने को मिली और वो पिछले स्तर के करीब ही बंद हुआ। जानकारों के मुताबिक महंगाई दर के आंकड़े आने से पहले रुपये में सीमित एक्शन देखने को मिला है। वहीं डॉलर में मजबूती की वजह से रुपये मे गिरावट देखने को मिली।घरेलू शेयर बाजार में कमजोरी के रुख के बीच अंतरबैंक विदेशीमुद्रा विनिमय बाजार में डॉलर के मुकाबले रुपया महज एक पैसे की गिरावट के साथ 74.44 प्रति डॉलर के स्तर पर बंद हुआ। विदेशीमुद्रा विनिमय बाजार में सुबह रुपया 74.43 पर खुला। कारोबार के दौरान यह 74.37 से 74.48 रुपये के दायरे में घट बढ़ के बाद पिछले सत्र के बंद भाव के मुकाबले एक पैसे की हानि दर्शाता 74.44 रुपये प्रति डॉलर पर बंद हुआ। इससे पहले मंगलवार को यह 74.43 रुपये प्रति डॉलर पर बंद हुआ था। आज बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों पर आधारित सूचकांक कारोबार के अंत में 28.73 अंक अथवा 0.05 प्रतिशत की गिरावट के साथ 54,525.93 अंक पर बंद हुआ।छह प्रमुख मुद्राओं के मुकाबले अमेरिकी डॉलर की स्थिति को दर्शाने वाला डॉलर सूचकांक 0.11 प्रतिशत बढ़कर 93.16 हो गया। वैश्विक मानक माने जाने वाले ब्रेंट क्रूड की कीमत 0.30 प्रतिशत बढ़कर 70.84 डॉलर प्रति बैरल हो गई। शेयर बाजार से प्राप्त आंकड़ों के मुताबिक विदेशी संस्थागत निवेशकों ने मंगलवार को बाजार में 178.51 करोड़ रुपये के शेयरों की शुद्ध बिकवाली की। विशेषज्ञों का कहना है कि मुद्रास्फीति के महत्वपूर्ण आंकड़े आने से पहले डॉलर-रुपये की विनिमय दर सीमित दायरे में रही। मुद्रास्फीति के आंकडे कल जारी होने हैं। ऐसा माना जा रहा है कि ये आंकड़े पिछले महीने के आंकड़ों के अनुरूप ही रह सकते हैं। रुपये में कमजोरी मुख्य तौर पर डालर की प्रमुख मुद्राओं के समक्ष मजबूती के कारण रही।एलकेपी सिक्योरिटीज के वरिष्ठ शोध विश्लेषक जतिन त्रिवेदी ने कहा कि डॉलर सूचकांक के 90 अंक से ऊपर स्थिर होने के कारण लंबे समय में रुपये के लिए रुझान कमजोर होगा। इसके अलावा कच्चे तेल की ऊंची कीमत और कोविड महामारी के चलते रुपये पर दबाव बना है। रेलिगेयर ब्रोकिंग लिमिटेड में जिंस एवं मुद्रा शोध की उपाध्यक्ष सुगंधा सचदेवा ने कहा कि कच्चे तेल की कीमतों में उछाल और अमेरिकी डॉलर सूचकांक में मजबूती के बीच जून के बाद से भारतीय रुपये में भारी गिरावट देखी गई है। रिलायंस सिक्योरिटीज के वरिष्ठ शोध विश्लेषक श्रीराम अय्यर ने भी रुपये में कमजोरी का अनुमान जताया। उन्होंने कहा, ‘‘उन्होंने कहा कि रुपया 73.30 से 75.50 के दायरे में रहेगा और साल के अंत तक यह 76.00-76.50 के स्तर को भी छू सकता है।’’

तृणमूलनेकियामांकालीकाअपमानराष्ट्रीयप्रतीककाभीअनादरभारतीय सर्वर में ही रहेगा लोगों को वित्‍तीय डेटा, समयसीमा बढ़ाने से RBI का इंकार******RBI वैश्विक वित्तीय प्रौद्योगिकी (फिनटेक) कंपनियों को आंकड़े देश में ही रखने (डेटा स्थानीयकरण) के नियमों के अनुपालन के लिए दिये गये समय को आगे नहीं बढ़ायेगा। आरबीआई ने इसके लिए अंतिम तिथि 15 अक्टूबर निर्धारित की है। सूत्रों ने यह जानकारी दी। जनहित में केंद्रीय बैंक ने यह निर्देश दिया है। रिजर्व बैंक ने अप्रैल में भुगतान के कामकाज में लगी वैश्विक कंपनियों को भारतीय ग्राहकों के लेनदेन के आंकड़े भारत में ही संग्रहीत करके रखने के लिए छह महीने का समय दिया था। सूत्रों के मुताबिक, वैश्विक वित्तीय प्रौद्योगिकी कंपनियां रिजर्व बैंक से बार-बार अंतिम तिथि को 15 अक्टूबर से आगे बढ़ाने की मांग कर रही हैं लेकिन केंद्रीय बैंक डेटा इन नियमों के अनुपालन की समयसीमा को आगे बढ़ाने का इच्छुक नहीं है।डेटा स्थानीयकरण का अर्थ है कि देश में रहने वाले नागरिकों के निजी आंकड़ों को एकत्र, प्रसंस्करण और संग्रहीत करके देश के भीतर ही रखा जाये और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर स्थानांतरित करने से पहले स्थानीय निजता कानून या डेटा संरक्षण कानून की शर्तों को पूरा किया जाए।भारतीय कंपनियों ने रिजर्व बैंक के इस कदम का स्वागत किया है जबकि विदेशी कंपनियों को यहां अपना सर्वर बनाने में खर्च बढ़ने का खतरा सता रहा है। सूत्रों ने कहा कि लागत में वृद्धि से बचने के लिए विदेशी कंपनियों ने हाल ही में हुई एक बैठक में असल आंकड़ों की जगह उनकी एक नकल भारत में रखने का प्रस्ताव दिया था। हालांकि, केंद्रीय बैंक ने इसकी मंजूरी नहीं दी।तृणमूलनेकियामांकालीकाअपमानराष्ट्रीयप्रतीककाभीअनादरप्रजनेश गुणेश्वरन एटीपी रैंकिंग में टॉप 100 में शामिल******लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहे प्रजनेश गुणेश्वरन अपने कैरियर में पहली बार एटीपी रैंकिंग में शीर्ष 100 में पहुंच गए हैं जो छह पायदान चढकर 97वें स्थान पर हैं।प्रजनेश शीर्ष 100 में पहुंचने वाले तीसरे भारतीय हैं। उनसे पहले सोमदेव देववर्मन और यह कमाल कर चुके हैं।पिछले सत्र में शानदार प्रदर्शन करने वाले प्रजनेश पिछले सप्ताह एटीपी चेन्नई चैलेंजर के सेमीफाइनल में पहुंचे थे। वह यदि शीर्ष 100 में बने रहते हैं तो ग्रैंडस्लैम एकल मुख्य ड्रॉमें उन्हें सीधे प्रवेश मिल जायेगा ।युकी 156वें और रामकुमार रामनाथन 128वें स्थान पर हैं। साकेत माइनेनी 255वें स्थान पर हैं।युगल में रोहन बोपन्ना 37वें, दिविज शरण 39वें, लिएंडर पेस 75वें , जीवन नेदुंचेझियान 77वें और पूरव राजा 100वें स्थान पर हैं ।डब्ल्यूटीए रैंकिंग में अंकिता रैना 165वें स्थान पर है ।

पिछला:HDFC ने दिया दिवाली से पहले तोहफा, होम लोन पर ब्याज दर 0.10 प्रतिशत घटाई
अगला:रिजर्व बैंक ने तीन सहकारी बैंकों पर 23 लाख रुपए का जुर्माना लगाया
संबंधित आलेख